Pages

Tuesday, August 31, 2010

कान्हा मांगू तेरा संग

हर रूप
हर रंग
कान्हा मांगू
तेरा संग
शिशु तुमसा
ममतत्व जगाये
सखा तुमसा
दौड़ा आये
प्रिय तुमसा
नेह बढाए
साथी तुमसा
हर वचन निभाये
चरणों में जब
नयन लगाऊं
ये जीवन
सार्थक हो जाए
"आपसभी को कृष्णजन्मोत्सव की शुभकामनाये "

29 comments:

  1. sonal..janmastmi ki tumhe bhi shubhkamnayen!

    ReplyDelete
  2. वाह वाह्……………सच जीवन सार्थक हो जाये अगर ऐसा हो जाये।

    ReplyDelete
  3. भगवान श्री कृष्ण पर कुछ भी लिखा जाये तो वो अपने आप ही सुद्नर हो जाता है.. एक बार मैंने भी ऐसा ही कुछ लिखा था..


    आपको भी बहुत शुभकामनाये

    ReplyDelete
  4. बहुत बहुत शुभकामनाये
    बहुत बहुत शुभकामनाये
    बहुत बहुत शुभकामनाये

    ReplyDelete
  5. आपको भी श्री कृष्ण जन्मोत्सव की शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  6. आपको बहुत शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  7. राधे राधे ...बहुत खूब ...आप सब को भी जन्माष्टमी की बहुत बहुत बधाई

    ReplyDelete
  8. कृष्ण का हर रूप लुभाता है .... आपको भी जन्माष्टमी की बधाई ....

    ReplyDelete
  9. ख़ूबसूरत रचना..... आभार
    जय श्रीकृष्ण ....

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर ...कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  11. बेहद खूबसूरत....... बहुत खूब!

    कृष्ण जन्माष्टमी पर एडवांस में शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  12. राधे राधे

    हरे कृष्णा हरे कृष्णा
    कृष्णा कृष्णा हरे हरे
    हरे राम हरे राम
    राम राम हरे हरे।

    कान्हा जीवन मॆं खुशिहाली लायें।

    ReplyDelete
  13. बाबु! हर रूप मे उसे हर कोई पाना चाहता है.
    मुझे उसने इस जनम मे यशोदा,मीरा और राधे का जीवन जीने को दिया. कभी खुश होती हूं कि उसने इस योग्य समझा.कभी ..........वो मिलेगा तो उससे खूब झगडूगी कि मैं ही क्यों?
    खूब रोऊँगी और खूब रुलाऊंगी.
    हर बार मेरी गोद मे आता है और छोड़ कर चला जाता है वो मुझे सोनल! बिना ये सोचे कि .........कैसे जिऊंगी?
    चाहो तो आना मिलने 'मेरे कृष्ण' से ब्लोग पर.'दिनकर' मे है वो ...और भी कई जगह.
    तुम्हे कैसे दे दूँ ? या ...तुम्हारा होने दूँ? पर...मैं स्वार्थी नही.वो हर रूप मे तुम्हे मिले.

    ReplyDelete
  14. Jai Shri Radhe Krishna AAPKO bhji KANHA Ke janm par bahut bahut badhai ...........!!

    ReplyDelete
  15. bahut bahut shubhkaamnae :)

    http://liberalflorence.blogspot.com/

    ReplyDelete
  16. लाजवाब रचना...

    ReplyDelete
  17. जय श्री कृष्ण!
    --
    अब मैं ट्विटर पे भी!
    https://twitter.com/professorashish

    ReplyDelete
  18. बहुत सुन्दर रचना...श्री कृष्ण-जन्माष्टमी पर ढेर सारी बधाइयाँ !!

    ________________________
    'पाखी की दुनिया' में आज आज माख्नन चोर श्री कृष्ण आयेंगें...

    ReplyDelete
  19. चरणों में जब
    नयन लगाऊं
    ये जीवन
    सार्थक हो जाए
    ..खूबसूरत अभिव्यक्ति.
    श्री कृष्ण-जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  20. एकै साधै सब सधे, स्वार्थ्पूर्ण कामना है आपकी। पर श्रीकॄष्ण भगवान की प्राप्ति की इच्छा मे स्वार्थ रखना संभवतः सबसे उच्च कोटि का स्वार्थ होगा ।

    ReplyDelete
  21. एक ही जीवन मिलता है उसे
    सार्थक करने के लिए कृष्ण से विनय का भक्ति भाव अच्छा लगा...

    ReplyDelete
  22. blog pe kam hee aa pata hun ..par aata hun to khush ho jata hun ...badi pyari pyari rachna hai ,...krishn sampoorn avtar the ..shayd isiliye har gun tha unme....:)

    ReplyDelete
  23. खूबसूरत अभिव्यक्ति.
    श्री कृष्ण-जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  24. बहुत ख़ूबसूरत..कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !

    ReplyDelete